माता-पिता पर सर्वश्रेष्ठ अनमोल विचार | Best Quotes On Parents in Hindi

Now Share your custom Shree Krishna Greeting Card with Your Name and Photo on your friends and Social Sites and in Hindi too.
माता पिता को भगवान का रूप बताया गया है। ऐसा कहा जाता है के भगवान हर किसी के साथ नहीं रह सकता है, इसलिए भगवान ने इंसान का ख्याल रखने के लिए माता-पिता को बनाया है। माता-पिता ही ऐसे शख्स है जो हमारे जीवन की हर छोटी – बड़ी जरूरतों का ध्यान रखने वाले और खूबसूरत इंसान होते है। आप इस दुनिया में जितने भी सफल व्यक्तियों को देखेंगे तो उनकी सफलता में उनके माता-पिता का अहम किरदार होता है। वे अपने माता-पिता से प्रेरणा पाकर और उनके आदर्शों पर चलकर ही अपने जीवन में कामयाबी को छूते है। हमारे जीवन में माता-पिता की भूमिका हमेशा अलग होती है और जीवन में शामिल दूसरे लोगों से अनमोल होते है। मुझे उम्मीद है कि माता-पिता पर सर्वश्रेष्ठ अनमोल विचार आपको बहुत पसन्द आयेगे और आप अपने माता-पिता के लिए शुभकामनाएँ संदेश कॉपी कर फेसबुक, ट्विटर, गूगल+ और व्हाट्सएप्प पर शेयर जरुर करोगे।

अगर आप अपने माता पिता का, ख्याल नहीं रखते हैं तो हो सकता हैं, कल आपके बच्चे भी, आपका ख्याल ना रखे,
आपके माता पिता को आपके, सहयोग और प्यार की जरुरत हैं।
Take Care Of Your Parents!


ईश्‍वर का सबसे अनमोल तोहफा हमारे माता-पिता है।


हे भगवान, बस इतना काबील बनाना मुझे की, जिस तरह मेरे माँ-बाप ने मुझे खुश रखा, मैं भी उन्हें, बुढ़ापे मैं वैसे खुश रख सकूँ।


सारी दुनिया छोटी पड़ जाती है, लेकिन भगवान का घर और माँ का आंचल कभी छोटा नहीं पड़ता।


जिस घर में माँ की कद्र नहीं होती है, उस घर में कभी बरकत नहीं होती है।


इस दुनियॉं में बिना स्‍वार्थ के सिर्फ माता-पिता ही प्‍यार कर सकते हैं।

Radhe Krishna Shayari - Special Love Shayari

पता नहीं कैसे पत्थर की मूर्ति के लिए जगह बना लेते है घर मैं वो लोग, जिनके घर में माता-पिता के लिए कोई स्थान नहीं होता है।


पिता की दौलत पर घमंड करने में क्या खुद्दारी, मजा तो तब है जब दौलत अपनी हो और घमंड पिता करे।


तूने जब धरती पर पहली सांस ली तब तेरे माता-पिता तेरे पास थे, माता-पिता जब अंतिम सांस ले तब तू उनके पास रहना।


मॉं और पिता ऐसे होते है, जिनके होने का एहसास कभी नहीं होता, लेकिन ना होने का एहसास बहुत होता है।


मैंने माँ की हतेली पर एक काला तिल देखा और कहा की माँ यह दौलत का तिल है? माँ ने अपने दोनों हाथों में मेरे चेहरे थामा और कहा..
“हाँ बेटा देखो मेरे दोनों हाथों में कितनी दौलत है।


तूने जब धरती पर पहली साँस ली तब तेरे माता-पिता तेरे पास थे।
माता-पिता जब अंतिम सांस ले, तब तू उनके पास रहना।


मंजिल दूर और सफ़र बहुत हैं, छोटी सी ज़िन्दगी कि फिकर बहुत हैं, मार डालती ये दुनिया कब की हमें, लेकिन माँ की दुआओं में असर बहुत हैं।


कोई कहता है अच्छे कर्म करोगे तो मरने के बाद स्वर्ग मिलेगा, मैं कहता हूँ, माँ की सेवा करोगे तो जीते जी स्वर्ग मिलेगा।


चट्टानों सी हिम्मत और जज्बातों का तुफान लिए चलता है, पूरा करने की जिद से‘पिता’दिल में बच्चों के अरमान लिए चलता है।

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *