महादेव स्टेटस शायरी हिन्दी में – Mahakal Status Shayari in Hindi

Make a beautiful Happy Holi Photo Frame
नमस्कार दोस्तों। हर हर महादेव। दोस्तों हमने इस पोस्ट में शिव भक्तों के लिए बहुत ही अच्छी-अच्छी महादेव शायरी को लिखा है। शिवरात्रि के पावन अवसर पर आप इन शायरी का उपयोग आसानी से कर सकते है। आप इन शायरी को अपने वाट्सएप्प, फेसबुक पर अपने स्टेटस के रूप में भी उपयोग कर सकते हैं।

कर्ता करे न कर सकै
शिव करै सो होय
तीन लोक नौ खंड में
महाकाल से बड़ा न कोय।
जय श्री महाकाल!!


कैसे कह दूँ कि मेरी
हर दुआ बेअसर हो गई
मैं जब जब भी रोया
मेरे भोलेनाथ को खबर हो गई।
हर हर महादेव!!


ना पूछो मुझसे मेरी पहचान
मैं तो भस्मधारी हूँ…
भस्म से होता जिनका श्रृंगार
मैं उस महाकाल का पुजारी हूँ।
हर हर महादेव!!


जिनके रोम-रोम में शिव हैं
वही विष पिया करते हैं
जमाना उन्हें क्या जलाएगा
जो श्रृंगार ही अंगार से किया करते हैं।
जय भोलेनाथ!!


तन की जाने
मन की जाने
जाने चित की चोरी
उस महाकाल से क्या छिपावे
जिसके हाथ है सब की डोरी।
जय श्री महाकाल!!


खुशबु आ रही है कहीँ से
गांजे और भांग की..
शायद खिड़की खुली रह गयी है
मेरे महांकाल के दरबार की।
हर हर महादेव!!


आता हूँ महाकाल दर पे तेरे
अपना सर झुकाने को
सौ जन्म भी कम है भोले
एहसान तेरा चुकाने को।
हर हर महादेव!!


मौत का डर उनको लगता है
जिनके कर्मों में दाग है
हम तो महाकाल के भक्त हैं
हमारे तो खुन में भी आग है।
जय श्री महाकाल!!


दरबार में महाकाल के
दुःख दर्द मिटाये जाते हैं
दुनिया के सताए लोग यहाँ
सीने से लगाए जाते हैं।
हर हर महादेव!!


अकाल मृत्यु वो मरे
जो काम करे चांडाल का
काल भी उसका क्या करे
जो भक्त हो महाकाल का।
जय श्री महाकाल!!

हैसियत मेरी छोटी है पर
मन मेरा शिवाला है।करम तो मैं करता जाऊँ
क्योंकि साथ मेरे डमरूवाला है।
जय श्री महाकाल!!
हर हर महादेव!!


राम उसका रावण भी उसका
जीवन उसका मरण भी उसका
ताण्डव है और ध्यान भी वो है
अज्ञानी का ज्ञान भी वो है।
हर हर महादेव!!


जिनके रोम-रोम में शिव है
वहीं विष पिया करते हैं
जमाना उन्हें क्या जलायेंगा
जो श्रृंगार ही अंगार से करते है।
हर हर महादेव!!


आँधी तूफान से वो डरते है
जिनके मन में प्राण बसते है।वो मौत देखकर भी हँसते है
जिनके मन में महाकाल बसते है।
हर हर महादेव!!


मौत का डर उनको लगता है
जिनके कर्मों मे दाग है।हम तो महाकाल के भक्त है
हमारे तो खून में ही आग है।
जय श्री महाकाल!!


फिदा हो जाऊँ तेरीकिस-किस अदा पर शंभू
अदाये लाख तेरी
और बेताब दिल एक मेरा है।
जय श्री महाकाल!!

हम लेकर आये आपके लिए सम्पूर्ण व्रत कथा ऐप जिसके माध्यम से आप कथा विधि विधान और मन्त्रों की जानकारी पाएगें।

इश्क में पागल छोरे छोरियाँ
वेलेन्टाईन डे के गुलाब बिन रहे है
हम तो बाबा महाकाल के दिवाने है
शिवरात्री के दिन गिन रहै है।
जय श्री महाकाल!!


भस्म को ललाट पे लगाया करते हैं
गले में मूँड माला
साँपों का डेरा सजाया करते है
हम भक्त है उनकेजो ताण्डव मचाया करते है।
जय श्री महाकाल!!


दौलत छोड़ी
दुनिया छोड़ी
सारा खजाना छोड़ दिया
महाकाल के प्यार में दिवानों नेराज घराना छोड़ दिया।
जय श्री महाकाल!!


अपने जिस्म को इतना न सँवारोयह तो मिट्टी में ही मिल जाना हैसँवारना है तो अपनी रूह को सँवारोक्योंकि उस रूह को ही महाकाल के पास जाना है
जय श्री महाकाल!!


अपने जिस्म को इतना न सँवारोयह तो मिट्टी में ही मिल जाना हैसँवारना है तो अपनी रूह को सँवारोक्योंकि उस रूह को ही महाकाल के पास जाना है
जय श्री महाकाल!!

मेरे भोले तेरी चौखट से सिर उठाऊँतो बेवफा कहनातेरे सिवा किसी और को दिल मे बसाऊँतो बेवफा कहनातुझे अगर मेरी वफा पर शक हैतो एक बार ह्रदय से लगा के तो देख
मै खुशी के मारे न मर जाऊँतो बेवफा कहना
जय श्री महाकाल!!


किस्मत में जो लिखा होता हैवो तो सबको मिलता हैपर जो किस्मत में नही लिखा होता हैवो
महाँकाल बाबा के दरबार में मिलता है।
जय श्री महाकाल!!


जिद पर अड़ जाएतो रुख मोड़ दे तुफानो केअभी तुमने तेवर ही कहा देखे हैंमहाकाल के दीवानों के
हर हर महादेव!!


कहते है साँस लेने से जान आती हैसाँस ना लो तो जान जाती हैमैं कैसे कह दू कि सिर्फसासो के सहारे ही ज़िंदा हूमेरी तो साँस भीमहादेव बोलने के बाद आती है
जय श्री महाकाल!!


शिवजी के दरबार में
दुनिया बदल जाती है
रहमत से हाथ की
लकीर बदल जाती हैलेता है जो भी दिल से
शिवजी का नामएक पल में उसकी
तकदीर बदल जाती है
हर हर महादेव!!


तमनाओं की महफ़िल तोहर कोई सजाता है।मगर पूरी उसकी ही होती हैजिसके सर पर
भोलेनाथ का हाथ होता है
हर हर महादेव!!


मुझे जरूरत नहीं उस इन्सान की जो मतलब के लिए साथ हो मैं खुश हूँ अपने महाकाल के साथ जो बिना मतलब के मेरे साथ है!
हर हर महादेव!!


प्रलय उनका ऐसाजेसे जन्नत का नजारा होतिनका भी हीरा बन जायेजब मेरे
महाँकाल का सहारा हो..!!
जय श्री महाँकाल!!


हर शहर की गली गली मेहर काल का डेरा है
मुझे किस चीज़ से डर
मेरे उपर तो महाँकाल का पहरा है
जय श्री महाँकाल!!


महांकाल तू तो रोम रोम मे,
मेरी इस तरह समाया है क्या धुप क्या छाया ये सब तेरी माया हैहर हर महादेव
जय श्री महाकाल!!

EMI Calculator - Know your Loan by EMI
2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *